छत्तीसगढ़ : कोरोना के मद्दे नजर भोरमदेव महोत्सव रद्द, गर्भगृह में श्रद्धालुओं का प्रवेश निषेध

कवर्धा । ऐतिहासिक भोरमदेव मंदिर में कोरोना के चलते इस बार भी महोत्सव नहीं होगा। भोरमदेव महोत्सव के सभी शासकीय कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है।

छत्तीसगढ़ : कोरोना के मद्दे नजर भोरमदेव महोत्सव रद्द, गर्भगृह में श्रद्धालुओं का प्रवेश निषेध
कवर्धा । ऐतिहासिक भोरमदेव मंदिर में कोरोना के चलते इस बार भी महोत्सव नहीं होगा। भोरमदेव महोत्सव के सभी शासकीय कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। यह लगातार दूसरी बार है, जब भोरमदेव में तेरस पर मेला नहीं लगेगा। मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुआें के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। गर्भगृह में अभी से ताला लगा दिए हैं, ताकि आम श्रद्धालु अभी से समझ जाएं और तेरस पर भीड़ इकट्‌ठा न हों।
 
1 हजार साल पुराने भोरमदेव मंदिर में चैत्र कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी यानि तेरस पर वर्षों से मेला लगता आ रहा है। इस दिन न सिर्फ कबीरधाम बल्कि दीगर जिलों व राज्यों से लोग यहां दर्शन के लिए पहुंचते हैं। लेकिन मार्च 2020 में कोरोना के चलते महोत्सव स्थगित किया गया था। इस बार 10 अप्रैल को तेरस है। इसे लेकर 9 व 10 अप्रैल को दो दिवसीय भोरमदेव महोत्सव के आयोजन की तैयारी हो चुकी थी। आमंत्रण कार्ड भी छपवा दिए गए, लेकिन बंटे नहीं है। संक्रमण बढ़ने के कारण इस बार भी महोत्सव को रद्द करना पड़ा।