छत्तीसगढ़ : निजी स्कूलों के लाखों छात्रों का भविष्य खतरे में, रुका जनरल प्रमोशन 

छत्तीसगढ़ में कोरोना के विकास संक्रमण के कारण, सरकार ने स्कूल के बच्चों को जनरल प्रमोशन देने के लिए आदेश किया। इस बीच, निजी स्कूल संगठन का बड़ा निर्णय किया है ।

छत्तीसगढ़ : निजी स्कूलों के लाखों छात्रों का भविष्य खतरे में, रुका जनरल प्रमोशन 
छत्तीसगढ़ में कोरोना के विकास संक्रमण के कारण, सरकार ने स्कूल के बच्चों को जनरल प्रमोशन देने के लिए आदेश किया। इस बीच, निजी स्कूल संगठन का बड़ा निर्णय किया है । इस निर्णय के बाद, राज्य में लगभग दो लाख स्कूली छात्राओं का भविष्य खतरे में है। वास्तव में, निजी स्कूल के संगठन ने यह निर्णय लिया कि 2 लाख छात्रों जनरल प्रमोशन नहीं देने का निर्णय गया है ,उन्हें नई कक्षाओं में बैठने की अनुमति नहीं देंगे। संगठन ने यह भी कहा कि स्कूल छोड़ने वाले छात्रों को स्थानांतरण प्रमाणपत्र तक नहीं दिया जाएगा। 
 
आपको बता दे की कुछ दिनों पहले ही भूपेश सरकार ने यह फैसला किया था की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार ऑफलाइन मोड में ली जाएंगी। और बाकि छात्रों को  जनरल प्रमोशन जाएगा।  
 
निजी स्कूलों का कहना है की अगर फीस पूरी नहीं दी गयी हो छात्रों को जनरल प्रमोशन  नहीं दिया जाएंगे नहीं अगली कक्षा में बैठने की अनुमति दी जाएगी। 
और तो और स्कूल छोड़ने पर स्थानांतरण प्रमाण पत्र तक नहीं दिया जाएगा।