BIG NEWS : 10वीं 12वीं की परीक्षा अब होंगी ONLINE, छत्तीसगढ़ बोर्ड ने किया साफ, पढ़े पूरी खबर

रायपुर । छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं तय समय के अनुसार ऑफलाइन माध्यम से ही होगी। लोगों द्वारा लगाए जाने वाले अटकलों को आज माध्यमिक शिक्षा मंडल ने ख़ारिज कर दिया है।

BIG NEWS : 10वीं 12वीं की परीक्षा अब होंगी ONLINE, छत्तीसगढ़ बोर्ड ने किया साफ, पढ़े पूरी खबर
रायपुर । छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं तय समय के अनुसार ऑफलाइन माध्यम से ही होगी। लोगों द्वारा लगाए जाने वाले अटकलों को आज माध्यमिक शिक्षा मंडल ने ख़ारिज कर दिया है।
 
बता दे कि छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 10वीं 12वीं की परीक्षाओं को लेकर एक आदेश जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि छात्रों का साल बर्बाद ना हो इसलिए इसे ध्यान में रखते हुए इन दोनों कक्षाओं की परीक्षा ऑफलाइन मोड में तय समय के अनुसार ली जाएगी। कक्षा दसवीं की परीक्षा 15 अप्रैल से 1 मई 2021 तक तथा 12वीं की परीक्षा 3 मई से 24 मई 2021 तक ऑफलाइन मोड में आयोजित होगी।
 
कोरोना को दृष्टिगत रखते हुए छात्रहित में निम्नलिखित निर्णय लिये गये है :-
 
• छात्रों के प्रवेश पत्र एवं परीक्षा केन्द्रों के अधिकारियों/कर्मचारियों के ड्यूटी आदेश के आधार पर परीक्षा केन्द्र तक जाने एवं आने की अनुमति रहेगी।
 
• जो विद्यार्थी कोरोना संकमण, लॉकडाउन, कंटेन्मेंट जोन आदि के कारण किसी विषय या सभी विषयों में अनुपस्थित रहते है, तो उनकी अंकसूची में अनुपस्थित न लिखकर 'C' लिखा जायेगा ऐसे विद्यार्थी को उन विषय में अंक नहीं दिये जायेंगे परन्तु उसे पास श्रेणी में उत्तीर्ण माना जायेगा।
 
• ऐसे विद्यार्थी जिनकी अंकसूची में 'C' अंकित है उनके लिये पूरक परीक्षा के साथ विशेष परीक्षा आयोजित की जायेगी और विशेष परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर उनकी अंकसूची में 'C' के स्थान पर प्राप्तांक अंकित कर पुनरीक्षित अंकसूची जारी की जायेगी और उन्हें श्रेणी भी दी जायेगी।
 
कोरोना महामारी से बचाव के लिए उपाय -
 
1. सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए सभी मान्यता प्राप्त शालाओं को परीक्षा केन्द्र बनाया गया।
 
2. परीक्षा कक्ष में प्रवेश से लेकर छात्रों की बैठक व्यवस्था में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाए। इस हेतु कक्ष की क्षमता 50% तक ही छात्रों को कक्ष में बैठाया जाए।
 
3. सभी छात्र, शिक्षक और शालाओं के अन्य अधिकारियों/कर्मचारियों को मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा।
 
4. परीक्षा केन्द्र को सेनेटाइज किया जायेगा और छात्रों, शालाओं के अधिकारियों/कर्मचारियों के हाथों को सेनेटाइज करने की व्यवस्था की जायेगी।
 
5. कोरोना पीड़ित छात्र को किसी भी परिस्थिति में परीक्षा में नहीं बैठाया जायेगा।